योगदानकर्ता

29 अक्तूबर 2015

कड़वा करवा

"बीजी  क्या मैं करवाचौथ  रख लूँ !"
 सगाई के चार दिन बाद ही   ओमी  ने इच्छा जाहिर की
 बीजी हैरानसी उसे
 देखते हुए बोली
" मरजाने !! लोग क्या कहेंगे | कोई लड़के भी करवा रखते हैं "
"नही बीजीमुझे व्रत  रखने दो ना ! ऐसे प्यार बढ़ता वो भी तो रखेगी मेरे लिए  "
 "चुप कर कंजर !"
 "आज तक  खानदान में किसी ने व्रत रखा जो तू रखेगा | अभी घर नही आई और इसका हाल देखो |"
 "खबरदार जो सवेरे  व्रत रखा "
अगली सुबह
"ओये ओमी उठ ओये आ सरगी खा ले पुत्तर "
किसी की तो जून सुधरे  इस घर आकर  !! ठंडी सांस लेकर बीजी ने फेनिया चूल्हे पर  पकानी शुरू की
  भीगी आँखों से देखती हुयी अपने # कडवे करवे को जो सोया था शराब से टल्ली .......................
एक टिप्पणी भेजें